2022 के जनवरी तक इस स्टॉक ने आल टाइम हाई ₹290.15% दिया था.

लेकिन धीरे-धीरे इसमें गिरावट आई और अब तक इसमें 53.47 फीसद तक निगेटिव रिटर्न आ गया है.

इस स्टॉक मार्केट ने पिछले 3 सालों में लोगों को बहुत ही अच्छा रिटर्न दिया था, जिसमें ₹1लाख को ₹ 40 लाख बना दिया था. 

यह टाटा गुप्ता एक ही कंपनी है, जिसके फाउंडर भी रतन टाटा है.

और टाटा ग्रुप का टाटा तेलीसर्विस लिमिटेड (महाराष्ट्र) स्टॉक है, जिसमें अब तक 53.47 फीसद तक का नेगेटिव रिटर्न देखने को मिल रहा है.

जिन लोगों ने इस साल यानी 2022 के जनवरी या शुरुआत में यहां पर निवेश किया है उन लोगों का पैसा लगभग दुब ही चुका है.

यानी कि इस वर्ष 3 जनवरी को किसी ने ₹1 लाख रुपए निवेश किया है, जब शेयर प्राइस 216 रुपए का था, तो वह उनका पैसा सिर्फ ₹47000 गया है.

जो अब तक इस टेलीकॉम स्टॉक का प्राइस गिरकर ₹122 से सिर्फ ₹100 के स्तर पर रह गया है.

ये टाटा टेलीसर्विस की ही एक मार्केट लीड की सब्सिडी कंपनी है.

जिसने अब कंपनियों के लिए स्मार्ट इंटरनेट की बेस्ट सर्विस शुरू की है.