कुछ समय पहले Repo Rate में आई चेंज के कारण सभी ब्याज दरों में बढ़ोतरी देखने को मिली चाहे वह कोई लोन हो जैसे, होम लोन, पर्सनल लोन हो या कोई फिक्स डिपॉजिट हो.

वही महंगाई की दर में हमें बीते हुए महीने में थोड़ा सा कमी देखने को मिला,

जिसके लिए उम्मीद किया जा रहा था रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ब्याज दरों में भी कमी ला सकती है, लेकिन फिलहाल ऐसी कोई उम्मीद ना करें.

सोमवार यानी 5 दिसंबर 2022 से Monetary Policy Review (MPC) Meeting शुरू हो रहा है जो अगले 3 दिनों तक रहेगा

जहां उम्मीद किया जा रहा था कि ब्याज दरों में थोड़ी सी राहत मिले.

वही इस मीटिंग के बाद हो सकता है रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया अपने रेपो रेट (Repo Rate) को बढ़ा सकता है.

और अगर रेपो रेट में बढ़ोतरी होती है तो आपके लोन की ईएमआई भी बढ़ जाएगी.

जिसमें मुख्य रुप से होम लोन और पर्सनल लोन पर ज्यादा प्रभाव पड़ेगा क्योंकि ज्यादातर लोग ही होम लोन और पर्सनल लोन लेते हैं.

इस बैठक में ब्याज दरों पर बेसिक प्वाइंट 25 से 30 तक की बढ़ोतरी हो सकती है.

लेकिन यह सुनिश्चित नहीं है कि RBI आने वाले समय में क्या फैसला लेगी.

जिसके लिए आपको इस बैठक की अंत यानी बुधवार तक रुकना होगा, कि RBI क्या घोषणा करती है.