होम लोन की ब्याज दर कैसे कम करें | How to Reduce Home Loan Interest Rate

दोस्तों आज हम बात करेंगे कि आप अपने होम लोन की ब्याज दर कैसे कम करें (How to Reduce Home Loan Interest Rate), यानी कि ऐसे कौन से तरीके हैं जिसके जरिए आप होम लोन पर कम ब्याज दर का लाभ उठा सकें और आपकी EMI आपको कम करके पे करना पड़े. 

आज हम आपको इस लेख में कुछ ऐसे टिप्स देने जा रहे हैं जिसके जरिए आप भी होम लोन पर एक कम ब्याज दर का लाभ उठा सकेंगे. अगर आप हमारे द्वारा दिए गए टिप्स को फॉलो करते हैं तो आप अपने इंटरेस्ट अमाउंट को कम कर सकते हैं और इसके साथ आप एक बड़ा अमाउंट कम करने का लाभ भी उठा सकते हैं. आइए इन टिप्स के बारे में जानते हैं.

होम लोन की ब्याज दर कम करने के 9 टिप्स | 9 Tips to Reduce Home Loan Interest Rate in Hindi

  1. एक सही और उन्नत क्रेडिट स्कोर 

अगर आपका सिविल कोड अच्छा रहता है यानी कि 800 या इससे ऊपर का रहता है तो आपको शुरुआती ब्याज दर पर ही होम लोन मिल जाता है यानी कि जिस परसेंट से ब्याज दर शुरू होता है उसी परसेंट पर ही आपको होम लोन मिल जाता है, और इस तरह से हमें बहुत ही कम ब्याज दर का लाभ उठाने का मौका मिल जाता है. 

  1. अपने डाउन पेमेंट को बढ़ाएं और कम धनराशि का लोन लेने की कोशिश करें.

आज जब भी होम लोन लेने जाते हैं, तो जितना हो सके कोशिश करें कि आप अपनी तरफ से ज्यादा पैसा इन्वेस्ट कर पाए और बैंक से आप कम लोन ले पाय. क्योंकि ब्याज दर कोई भी हो अगर आप कम लोन लेते हैं तो आप को कम इंटरेस्ट पे करना पड़ता है. एग्जांपल के लिए ले लेते हैं कि आपने 2500000 का लोन लिया 20 साल के लिए तो आपको कितना पे करना पड़ेगा और अगर आपने 15 लाख का लोन लिया 20 साल के लिए तो आपको कितना पे करना पड़ेगा. 

Loan Amount Tenure Interest rate Total Pay Total Interest
25 लाख 20 y 7% ₹46,51,792 ₹21,51,792
15 लाख 20 y 7% ₹27,91,076 ₹12,91,076

तो आप इस कैलकुलेशन के जरिए देख सकते हैं कि आपको टोटल अमाउंट देने पर ₹18,60,716  कम देना होगा और आपको इंटरेस्ट पर भी ₹8,60,716 का फायदा हो रहा है, इसलिए जितना हो सके डाउन पेमेंट को बढ़ाने की कोशिश करें.

यह भी पढ़ें – बैंक ऑफ महाराष्ट्र होम लोन 2022 (प्लॉट खरीदने और उस पर निर्माण के लिए)

यह भी पढ़ें- एक्सिस बैंक से पर्सनल लोन

यह भी पढ़ें- बैंक ऑफ बड़ौदा होम लोन इंटरेस्ट रेट

यह भी पढ़ें – HDFC Bank Home Loan 2022 in Hindi

  1. लोन चुकाने के लिए एक कम अवधि चुने

लोन को चुकाने के लिए एक कम अवधि या कम समय सीमा का चुनाव करें जिसकी वजह से आपको एक बहुत ही बड़ा अमाउंट जो आप इंटरेस्ट के रूप में बैंक को देंगे उस  से बच पाएंगे, जिससे आपको दो फायदा होगा एक तो आपको एक  बड़ा इंटरेस्ट अमाउंटका लाभ होगा और दूसरा कम समय सीमा होने के कारण आपकी टेंशन भी कम होगी और बहुत जल्द आप होम लोन से छुटकारा भी पा सकेंगे. फिर से एक एग्जांपल के जरिए समझते हैं,और पहले वाला एग्जांपल ही ले लेते हैं जिसने 25 लाख रुपए 20 साल के लिए लेते हैं और दूसरी बार देखते हैं वही 25 लाख रुपए 10 साल के लिए, और दोनों में इंटरेस्ट पर कितना अंतर देखने को मिलता है. 

Loan Amount Tenure Interest rate Total Pay Total Interest
25 लाख 20 y 7% ₹46,51,792 ₹21,51,792
25 लाख 10 y 7% ₹34,83,255 ₹9,83,255

तो आपने देखा जो आप टोटल अमाउंट पे करते हैं उसमें आपको ₹11,68,537 कम करके देना होगा यानी कि आपको इतना फायदा हो रहा है जिसमे से इंटरेस्ट रेट आपको ₹9,83,255 कम करके देना होगा, जो एक बहुत ही बड़ा अमाउंट है जिसका आपको फायदा मिल रहा है. इसी तरह आप होम लोन लेने से पहले थोड़ा सा इसके ऊपर जरूर ध्यान दें ताकि आपको इतने सारे पैसे बचाने में मदद मिल पाए.

यह भी पढ़ें – एक्सिस बैंक से पर्सनल लोन कैसे ले

  1. फ्लोटिंग इंटरेस्ट रेट का चुनाव करें

जब भी होम लोन लेने जाते हैं, तो हमें दो तरह के इंटरेस्ट से देखने को मिलते हैं फ्लोटिंग और फिक्स इंटरेस्ट रेट. फ्लोटिंग इंटरेस्ट रेट के मुकाबले हमेशा ही फिक्स इंटरेस्ट रेट ज्यादा होता है.  क्योंकि आजकल हर बैंक एक कंपटीशन के हिसाब से चल रहा है तो आपको हमेशा ही फ्लोटिंग इंटरेस्ट रेट कम करके ही देखने को मिल जाता है, ऐसे में अगर आप फ्लोटिंग इंटरेस्ट रेट के साथ जाते हैं तो आपको कम इंटरेस्ट रेट पे करने की वजह से आपकी ईएमआई भी कम होती है और  आपका टोटल इंटरेस्ट भी कम हो जाता है. 

  1. संभव हो तो प्रीपेमेंट करें 

आपके लिए प्रीपेमेंट का ऑप्शन एक अच्छा चुनाव है, अगर आप होम लोन लेते समय इस बात पर ध्यान दें कि आप से प्रीपेमेंट करने पर कोई भी चार्ज नहीं लिया जाता तो ऐसे में आपको फायदा होता है. क्योंकि प्रीपेमेंट करने पर आप अपने प्रिंसिपल अमाउंट का कुछ हिस्सा जमा कर पाते हैं और उस हिस्से का आपसे कोई भी इंटरेस्ट नहीं लिया जाता. और ऐसे आप जितना प्रीपेमेंट करते हैं उतने धनराशि पर ही आपको इंटरेस्ट रेट नहीं लेना होगा जो एक बहुत बड़ा फायदा आपके लिए बनता है.

  1. SIP पर इन्वेस्ट करें 

संभव हो तो अपने EMI का कम से कम 10% एसआईपी (SIP) पर इन्वेस्ट करें. इससे आपको 2 फायदे होते हैं, पहला आप अगर एक लंबे समय तक SIP पर इन्वेस्ट  करते हैं तो आपको एक अच्छा रिटर्न मिल जाता है, जिससे आप अगर चाहे तो होम लोन का प्री पेमेंट कर सकते हैं या इसे क्लोज ही कर सकते हैं. दूसरा SIP  एक अच्छा निवेश स्वभाव है, जिसमें जब आप एक लंबे समय तक इन्वेस्ट करते हैं तो आपको एक बहुत ही अच्छा रिटर्न मिल जाता है जो आपके होम लोन के इंटरेस्ट रेट को भी पूरी तरह से कवर कर सकता है. 

  1. होम लोन बैलेंस ट्रांसफर की सुविधा को अपनाएं. 

अगर आपने होम लोन लिया है या फिर आप लेने जा रहे हैं तो समय आने पर अगर आप का मौजूदा होम लोन का इंटरेस्ट रेट आपको ज्यादा लगे तो आप बैलेंस ट्रांसफर की तरफ जरूर ध्यान दें. कई बार मौजूदा होम लोन की ब्याज दर के मुकाबले अन्य जगहों पर हमें बहुत ही कम ब्याज दर देखने को मिल जाता है, और ऐसे बैंक का चुनाव कर सकते हैं जो होम लोन बैलेंस ट्रांसफर करने पर आपसे कोई भी प्रोसेसिंग फी नहीं लेता. कई बार समय-समय पर या फेस्टिव सीजन पर आपको यह ऑफर देखने को मिल जाता है कि बैंक प्रोसेसिंग से नहीं लेता और इसके साथ कम ब्याज दर पर होम लोन दे देता है तो ऐसे में आप बैलेंस ट्रांसफर के बारे में सोच सकते हैं. 

  1. हर EMI को समय पर चुकाए

आप हर EMI को समय पर चुका है ताकि आपसे बैंक कोई एक्स्ट्रा चार्ज ना ले पाए. क्योंकि कई बार अगर आप बार-बार आपसे EMI छूट जाता है तो ऐसे में बैंक आप पर एक भारी इंटरेस्ट रेट लगा देता है, तो इससे बचने के लिए आप हर EMI को समय पर जरूर चुकाए.

  1. आखिर में आप सभी बैंकों का इंटरेस्ट रेट कंपेयर करना ना भूलें

दोस्तों यह तो सभी जानते हैं फिर भी हम आपको बताना चाहेंगे कि आप हर पब्लिक बैंक, प्राइवेट बैंक और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों का होम लोन का इंटरेस्ट रेट जरूर चेक करें और इसके बाद ही होम लोन के लिए आवेदन करें. 

दोस्तों होम लोन की ब्याज दर कैसे कम करें (Tips to Reduce Home Loan Interest Rate in Hindi) बहुत ही बड़ा कारक है होम लोन पर इंटरेस्ट रेट को कम करने का, क्योंकि कई लोग इन बातों के बारे में ज्यादा ध्यान नहीं देते जिसकी वजह से उन्हें लाखों रुपए ज्यादा इंटेक्स के रूप में बैंक को देना पड़ता है, और उनका नुकसान हो जाता है. इसलिए आप इन बातों पर जरूर ध्यान दें और इस पोस्ट को सोशल मीडिया साइट जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, टि्वटर, टेलीग्राम आदि पर अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ताकि सभी लोगों को फायदा मिल पाए. अगर कोई इन बातों पर ध्यान नहीं देता तो वह ध्यान दे सकें और  खुद का नुकसान करने से बच सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.