Post Office Monthly Income Scheme (MIS) 2022 in Hindi

यह पोस्ट ऑफिस का नेशनल सेविंग मंथली इनकम स्कीम है जिसे पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (Post Office Monthly Income Scheme) और शार्ट में MIS कहा जाता है. इस स्कीम में हर महीने हमे पैसा मिलता है, जितना पैसा हम निवेश करते हैं उन पैसों के ऊपर जो इंटरेस्ट आता है वह हमें इस स्कीम में हर महीने प्राप्त होते हैं. जो जितना इन्वेस्ट करता है उसके हिसाब से ही हर महीने इंटरेस्ट प्राप्त करते हैं. 

पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम – Post Office Monthly Income Scheme (MIS) 2022 in Hindi

अगर हम दूसरी जगहों पर इन्वेस्ट करते तो यह इनकम हमें सालाना मिलता हैं. हर महीने हमें इसका जो पैसा मिलता है उसके जरिए हम कई तरह के काम कर सकते हैं. कई बार हमें हर महीने ही पैसों की आवश्यकता होती है जिसके कारण हम इन्वेस्ट नहीं कर पाते, और हमारा पैसा ऐसे ही हर महीने खर्च हो जाते हैं. तो ऐसे में यह स्कीम उन लोगों के लिए बहुत ही मददगार हो सकता है खासकर रिटायरमेंट के बाद. क्योंकि रिटायरमेंट के बाद जो मंथली पेंशन आता है वह कम हो जाता है ऐसे में आप रिटायरमेंट का पैसा यहां पर इन्वेस्ट कर सकते हैं जिसके कारण आपको मंथली इंटरेस्ट मिल जाएगा और आपको घर चलाने में कोई परेशानी नहीं होगी इसके साथ आपका जो मूलधन है वह भी सेफ रहता है.

यह भी पढ़ें- पोस्ट ऑफिस आरडी स्कीम 2022

पोस्ट ऑफिस एमआईएस स्कीम की विशेषताएं – Post Office MIS Scheme Features in Hindi

किसी भी प्प्लान में इन्वेस्ट करने से पहले इंटरेस्ट रेट तो हम देखते हैं, कि हमें कितना इंटरेस्ट मिल रहा है, इसके साथ हमें यहां पर और क्या-क्या सुविधा मिल रहा है यह देखना भी बहुत जरूरी है. जैसे कि अगर हम बीच में ही पैसा लेते हैं तो उसमें हमें कितना नुकसान होगा या कितना पैसा हमारा कटेगा इसके साथ क्या आवश्यकता होने पर हम यहां से कोई लोन ले सकते हैं. इन सब बातों को देखने के बाद ही हमें किसी जगह पर इन्वेस्ट करना चाहिए, ताकि हमें इससे नुकसान ना हो और फायदा मिले. आइए सबसे पहले इस स्कीम का फीचर या यहां पर हमें क्या-क्या सुविधाएं मिल रहा है यह जान लेते हैं. 

मंथली इनकम (Monthly income)

हमें यहां पर एक मंथली फिक्स्ड इनकम मिलते हैं. हम जनता इन्वेस्ट करते हैं उसका जो इंटरेस्ट होता है वह हमें हर महीने ही इस स्कीम में मिलते हैं. 

यह भी पढ़ें- एसबीआई प्लॉट लोन

फिक्स्ड मंथली इनकम (Fixed Monthly income)

आपको हर महीने ही जो इनकम मिलता है वह फिक्स होता है. ऐसा नहीं है कि किसी महीने आपको ज्यादा या कम मिले. उसके साथ और इसके साथ जो राशि आप जमा करते हैं मैच्योरिटी होने तक वह उतना ही रहता है, और मैच्योरिटी होने के बाद आपको वह अमाउंट पूरा मिल ता है. 

संपूर्ण सुरक्षित 

क्योंकि पोस्ट ऑफिस सरकारी होता है इसीलिए यहां पर हम निश्चिंत होकर निवेश कर सकते हैं और यहां पर हमारा पैसा सुरक्षित होता है. 

न्यूनतम राशि (Minimum Amount) 

कई ऐसे लोग हैं, जो ज्यादा पैसा जमा नहीं कर पाते और इसकी वजह से उन्हें मंथली कोई इनकम नहीं आता, ऐसे में उन लोगों के लिए यह स्कीम बहुत ही सही होता है. क्योंकि यहां पर आप अपनी सुविधा के अनुसार जितना चाहे उतना जमा कर सकते हैं, और हर महीने ही उस अमाउंट से एक इनकम कर सकते हैं. 

संयुक्त खाता (Joint Account)

आप चाहे तो यहां पर ज्वाइन अकाउंट ही खोल सकते हैं और इस स्कीम का लाभ संयुक्त हर सदस्य उठा सकता है.

यह भी पढ़ें- Benefits of sbi simply save card

अकाउंट ट्रांसफर (Account Transfer)

आप आपने अकाउंट को एक पोस्ट ऑफिस से दूसरी पोस्ट ऑफिस तक ट्रांसफर भी कर सकते हैं. जो एक बहुत ही बड़ी सुविधा है. क्योंकि कई बार हम जहां रहते हैं किसी कारणवश वहां से अलग शहर या गांव में ट्रांसफर ले लेते हैं या चले जाते हैं तो ऐसे में हम जहां पर ट्रांसफर लेते हैं वहां पर ही जो पास का पोस्ट ऑफिस होता है वहां पर आप अपना अकाउंट ट्रांसफर कर सकते हैं बिना किसी दिक्कत के, और इस स्कीम का सुविधा ले सकते हैं.

यह भी पढ़ें- एसबीआई टेक्नोलॉजी ऑपर्च्युनिटी फंड 

मिनिमम डॉक्युमेंट्स (Minimum Documents)

डॉक्युमेंट्स की बात करें तो इसमें आपको मिनिमम डॉक्युमेंट्स की ही अबस्कता होती है.

नॉमिनी 

इस स्कीम में नॉमिनी की भी सुविधा दिया गया है और किसी कारण अगर अकाउंट होल्डर की मौत हो जाती  है तो  जो प्रिंसिपल अमाउंट  बनता है वह नॉमिनी को वापस कर दिया जाता है.  

पोस्ट ऑफिस एमआईएस स्कीम में जमा – Post Office MIS Scheme Deposit

न्यूनतम जमा राशि (Minimum Deposit Amount) 

जमा करने की जो निम्नतम राशि है वह ₹1000 हैं. और इसे 100 से गुना करके आप जमा कर सकते हैं. इसलिए इस स्कीम का फायदा हर कोई उठा सकता है.

मैक्सिमम डिपॉजिट लिमिट – Maximum Deposit Limit

यहां पर सिंगल अकाउंट पर हर व्यक्ति सिर्फ ₹4.50 लाख मैक्सिमम लिमिट जमा कर सकते हैं, वहीं अगर आप ज्वाइंट अकाउंट खोलते हैं तो यह लिमिट ₹9 लाख का होता है. 

संयुक्त खाता – Joint Account

इस स्कीम में 3 लोग मिलकर भी इस स्कीम को खोल सकते हैं और इसका फायदा उठा सकते हैं. और अगर आप जॉइंट अकाउंट खोलते हैं तो इसमें सभी संयुक्त धारकों को समान मात्रा में राशि जमा करना होगा. 

पोस्ट ऑफिस एमआईएस स्कीम कैसे खोले – How to Open Post Office MIS Scheme in Hindi?

अकाउंट खोलते समय आप कैश या चेक दोनों का ही उपयोग कर सकते हैं. लेकिन यहां पर अकाउंट खोलने के लिए आपको कोई ऑनलाइन सुविधा नहीं मिलता, आपको अपने पास के पोस्ट ऑफिस पर जाकर ही यह अकाउंट खोलना होगा. 

कौन-कौन इस अकाउंट को खोल सकता है? 

  • कोई भी भारतीय नागरिक इस स्कीम का लाभ उठा सकता है.
  • कोई भी एडल्ट और किसी भी माइनर के नाम पर उनके माता-पिता या कोई भी कानूनी अभिभावक इस स्कीम को खोल सकते हैं.
  • और अगर कोई 10 साल का बच्चा इस स्कीम को खोलता है और खुद नियंत्रण करना चाहता है, तो उसको यह अधिकार है, कि वह इस स्कीम को अपने नाम पर खुद ही नियंत्रण कर सकता है.
  • कोई भी NRI इस अकाउंट को नहीं खोल सकता. 

पोस्ट ऑफिस एमआईएस की ब्याज दर – Post Office MIS Interest Rate

  • Interest Rate – 6​.6​ % Per Annum

पोस्ट ऑफिस के इस स्कीम में पेमेंट मंथली यानि मासिक होता है. फिलहाल इंट्रेस्ट रेट 6.6 फीसदी है जो सिंपिल इंट्रेस्ट के हिसाब से मिलता है. इसका जोड़ सालाना के आधार पर किया जाता है. ध्यान रहे कि अगर अकाउंट होल्डर मंथली इंट्रेस्ट क्लेम नहीं करेगा तो उसे इस पैसे पर अडिशनल इंट्रेस्ट का लाभ नहीं मिलेगा. यह इंटरेस्ट रेट पिछले साल यानी 01/04​/2020 से ही चला आ रहा है. 

और इसके साथ ही आपको यह बता दें कि अगर आप मंथली अपना पैसा नहीं लेते हैं, तो यह पैसा आपके सेविंग अकाउंट पर जमा हो जाता है, और इसमें आपको कोई भी एडिशनल इंटरेस्ट नहीं मिलता या चक्रवृद्धि सूद नहीं मिलता. 

Total

Deposit

(₹)

Interest Rate

(%)

Monthly

Interest 

(₹)

Yearly

Interest

(₹)

Total

Interest

5 Years

Total 

Return

(₹)

1,00,000 6.6% 550 6,600 33,000 1,33,000
2,00,000 6.6% 1,100 13,200 66,000 2,66,000
4,50,000 6.6% 2,475 29,700 1,48,500 5,98,500
9,00,000 6.6% 4,950 59,400 2,97,000 11,97,000

एमआइएस के अनुसार अगर कोई अकाउंट में एकमुश्त 50 हजार रुपये जमा कराता है तो हर महीने 275 रुपये यानी हर साल 3300 रुपये पांच सालों तक मिलेंगे. इस पांच सालों में इंट्रेस्ट के रूप में कुल 16,500 रुपये मिलेंगे. वहीं अगर कोई 4.5 लाख रुपये जमा करता है तो उसे हर महीने 2475 रुपये मिलेंगे, एक साल में 29,700 और पांच सालों में इंट्रेस्ट के रूप में 1,48,500 रुपये मिलेंगे.

पोस्ट ऑफिस एमआईएस स्कीम की अवधि  – Post Office MIS Scheme Term  

अवधि – 5 साल 

इस स्कीम को 5 साल के लिए ले सकते हैं, इससे कम के लिए यह स्कीम नहीं है. और अगर आप चाहे तो 5 साल के बाद और 5 साल के लिए निवेश कर सकते हैं. 

समय से पहले निकासी (Premature withdrawal)

पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम की मैच्योरिटी पांच सालों की है. इसमें खाता खुलने के एक साल बाद तक पैसे नहीं निकाले जा सकते हैं. 1-3 साल के दौरान खाते से पैसे निकालने पर प्रिंसिपल अमाउंट के 2 फीसदी काट लिया जाएगा. वहीं 3-5 साल के भीतर अकाउंट क्लोज करने पर 1 फीसदी जुर्माना काटा लिया जाएगा.

कर (Tax)

  • कोई भी टैक्स बेनेफिट्स आपको नहीं मिलता है.
  • जमाकर्ता को अपने ब्याज पर कर (Tax) देना होगा.

वरिष्ठ नागरिकों के लिए बेस्ट स्कीम – Post Office Monthly Income Scheme For Senior Citizens 

अगर कोई वरिष्ठ नागरिक या सीनियर सिटीजन रिटायरमेंट के बाद इस स्कीम को लेते हैं तो यह उनके लिए बहुत ही फायदेमंद रहता है. 

आपको रिटायरमेंट के बाद जो सैलरी मिलता था वह आधा हो जाएगा. ऐसे में आप इस स्कीम पर एक बड़ा अमाउंट डिपॉजिट करके रख सकते हैं ऐसे में हर महीने ही आपको इंटरेस्ट मिलता रहेगा,, जो एक मंथली इनकम या सैलरी की तरह होगा. जिससे आप अपने घर को अच्छी तरह से चला सकते हैं और अपने छोटे बड़े कामों को भी कर सकते हैं और अगर आपको इन पैसों की आवश्यकता ना हो तो आप इसे दूसरे सेविंग मे भी लगा सकते हैं. 

यह भी पढ़ें- होम लोन लेने से पहले जान ले ये सबसे महत्वपूर्ण बातें 

यह भी पढ़ें- Bank Of Maharashtra Home Loan in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.